Yogada

ईश्वर-साक्षात्कार के सर्वाधिकार का महाप्रसाद -(श्री श्री लाहिड़ी महाशय के आविर्भाव एवं समाधि दिवस के अवसर पर एक मधुर स्मृति)

“ईश्वर साक्षात्कार आत्मप्रयास से संभव है, वह किसी धार्मिक विश्वास या किसी ब्रह्माण्ड नायक की मनमानी इच्छा-अनिच्छा पर निर्भर नहीं...

क्रियायोग प्रविधि के सूक्ष्म प्रसार के अग्रदूत, महान क्रियायोगी लाहिड़ी महाशय का आविर्भाव दिवस कल 30 सितंबर को

लाहिड़ी महाशय अब तक अवतरित महानतम गुरुओं में से एक थे। उनका पूरा नाम श्री श्यामाचरण लाहिड़ी था। वे बनारस...

आप पसंद करेंगे