जमशेदपुर क्षेत्र की विभिन्न मांगो को लेकर सांसद विद्युत वरण महतो मिले रेल मंत्री अश्वनी वैष्णव से

सांसद बिद्युत बरण महतो आज संसद भवन में नव नियुक्त रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात की। इस मुलाकात में उन्होनें अपने संसदीय क्षेत्र के रेलवे संबंधी विभिन्न मांगों पर विस्तृत चर्चा की। सर्वप्रथम उन्होनें टाटा से बक्सर तक सीधी रेल सेवा प्रारंभ करने के मांग पर चर्चा की और कहा कि यह जनहित में अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि झारखण्ड अविभाजित बिहार का हिस्सा था, इस कारण जमशेदपुर एवं आस- पास में बड़ी संख्या में उत्तर बिहार के लोग निवास करते है। बक्सर तक सीधी रेल सेवा नहीं होने के कारण उस क्षेत्र के लोगों को आवागमन में काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। रेल मंत्री ने अपने निजी सचिव को आदेश दिया कि इस संबंध में उन्हें विस्तृत जानकारी उपलब्ध कराया जाए एवं अबतक हुई कार्रवाई से भी अवगत कराया जाए ताकि इसका निदान निकाला जा सके। इसके अतिरिक्त सांसद महतो ने टाटा से जयनगर, टाटा से भागलपुर, पुरूषोत्तम एक्सप्रेस का जयपुर तक विस्तार सहित टाटा से बंगलुरू तक नई रेल सेवा की मांग की। साथ ही साथ उन्होंने काण्ड्रा-नामकुम रेल लाईन को शुरू करने एवं झारखण्ड के रांची में नए रेलवे जोनल मुख्यालय बनाने की मांग प्रमुखता से की। सांसद महतो ने अपनी विभिन्न मांगों के संबंध में पांच विभिन्न ज्ञापन सुपुर्द किया। जो इस प्रकार है।

क) टाटानगर से बक्सर अथवा पं0 दिनदयाल उपाध्याय जं0 तक सीधी रेल सेवा की
शुरूआत करने के संबंध में- सांसद श्री महतो ने कहा कि झारखण्ड राज्य के जमशेदपुर सहित आस पास के कई शहर अविभाजित बिहार का एक अभिन्न अंग रहा था। यही कारण है कि इन क्षेत्रां में उत्तर बिहार एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश के लोग यहां पर बड़ी संख्या में निवास करते हैं। इस बड़ी आबादी के लिए बक्सर अथव पं0 दिनदयाल उपाध्याय जं0 के मार्ग में कोई सीधी रेल सेवा उपलब्ध नहीं है। यात्रियों के एक बड़ी संख्या को कई कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में मैने पूर्व में भी अनेक बार पत्राचार किया है। इस विषय को रेलवे के विभिन्न स्तरों पर भी रखा गया है। इस संबंध में हर बार विभिन्न प्रकार के समस्याओं को रेलवे के अधिकारीयों के द्वारा प्रस्तुत किया जाता है। अबतक इसका समाधान नहीं हो पाया है। इस संबंध में निम्नांकित रेल सेवाओं का विस्तार बक्सर अथवा पं0 दिनदयाल उपाध्याय जं0 तक किया जा सकता है।
1) टाटा दानापुर ट्रेन संख्या 18183/18184
2) साउथ बिहार एक्सप्रेस ट्रेन संख्या 13287/13288
3) पटना बिलासपुर ट्रेन संख्या 22844,
अतः यथाशीघ्र जनहित में उपरोक्त रेल सेवाओं का विस्तार करने की कृपा करें अथवा टाटानगर से बक्सर/ पं0 दिनदयाल उपाध्याय जं0 तक एक नई सीधी रेल सेवा प्रारंभ किया जाए।
ख) नए रेल सेवा प्रारंभ करने के संबध में सांसद महतो ने कहा कि – (1) टाटानगर (झारखण्ड) से जयनगर (बिहार) भाया दरभंगा तक सीधी रेल सेवा शुरू की जाए-गत 25 वर्षों से मेरे लोकसभा क्षेत्र में रहने वाले लगभग 4 लाख लोग जो दरभंगा सकडी, र्निमली, सुपौल, सहरसा एवं नेपाल के तराई क्षेत्रों तक के लोग मांग कर रहें हैं। यदि किसी प्रकार की तकनीकी अडचन हो तो पूरी-जयनगर-पूरी (18419ध्18420) ट्रेन को खडगपुर की बजाए हिजली-टाटानगर से होकर चलाया जाए।
(2) टाटानगर से भागलपुर तक रेल सेवा का परिचालन पुनः प्रारम्भ किया जाय। इस ट्रेन का समय सारिणी गलत होने के कारण यह ट्रेन लोगों के लिए उपयोगी साबित नहीं हो पाया है। अतः सही समय सारिणी से इसे पुनः प्रारम्भ किया जाय अथवा टाटानगर से आसनसोल इंटरसिटी एक्सप्रेस जो सप्ताह में तीन दिन संचालित है, उसे बढ़ाकर टाटानगर से भागलपुर भाया किउल, जमालपुर, सुलतानगंज होते हुए भागलपुर इंटरसिटी एक्सप्रेस किया जाय।
(3)पुरूषोत्तम एक्सप्रेस (भुवनेश्वर से नई दिल्ली) का जयपुर तक विस्तार- विदित हो किझारखण्ड में रांची के कार्यक्रम में माननीय रेल मंत्री जी के द्वारा यह घोषणा की गई थी कि, जल्द ही इस पर अमल किया जायेगा लेकिन अब तक नहीं हो पाया है। यदि इसमें किसी प्रकार का तकनीकी अडचन हो तो हावडा से जयपुर जाने वाले ट्रेनों में से दो ट्रेन को भाया टाटानगर चलाया जाए।इस क्षेत्र के लाखों लोगों की वर्षां पुरानी मांग है इस संबंध में प्रस्ताव बनाकर तत्काल रेलवे बोर्ड को प्रेषित किया जाए।
(4) टाटा से बंगलुरू तक एक नई सुपरफास्ट ट्रेन सेवा प्रारंभ किया जाए।
(5)टाटा से भूवनेश्वर तक इंटरसीटी एक्सप्रेस ट्रेन की शुरूआत किया जाए।
1ण् ग) नये रेल सेवा विस्तार के सम्बन्ध में उन्होनें कहा कि- (1)पटना बिलासपुर साप्ताहिक ट्रेन का मुगलसराय तक विस्तार। (2) टाटा से दीघा तक नए मेमु ट्रेन की शुरूवात किया जाए (3) उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव राखामाईन्स स्टेशन पर किया जाए (4)शालीमार-गोरखपुर ट्रेन को सप्ताह में दो बार चलाया जाए (5) उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन का ठहराव राखामाईन्स स्टेशन पर किया जाए (6) टाटा रांची मेमु टै्रन का चाकुलिया तक विस्तार (7)झारखण्ड के रांची में नए रेलवे जोन बनाया जाए
घ) रेल के हॉल्ट संबंधित माँगों के संबध में सांसद श्री महतो ने कहा कि- (1)खड़गपुर रेल मंडल के अंतर्गत धालभूमगढ़ एवं कोकपाड़ा के बीच में बड़कोला में हॉल्ट निर्माण की मांग काफी लम्बे समय से हो रही है। बड़कोला में हॉल्ट निर्माण की जनहित में अत्यंत आवश्यकता है। उक्त हॉल्ट का निर्माण होने से मजदूर तथा आम जनता को काफी सुविधा होगी। (2) टाटानगर बादामपहाड़ रेल खण्ड में हल्दीपोखर स्टेशन पर बड़ी संख्या में यात्रियों का आवागमन होता है इस रेल खण्ड का यह प्रमुख पड़ाव है। इसलिए हल्दीपोखर स्टेशन को पूर्ण स्टेशन का दर्जा दिया जाए और सारी सुविधाएँ उपलब्ध कराई जाए
च) नई रेल लाईनों के निर्माण एवं सर्वे के संबंध में सांसद श्री महतो ने कहा कि

(1) चांडिल-बोडाम-पटमदा-काटिन-बंदवान होते हुए झाडग्राम के लिए नई रेलवे लाईन के सर्वे का काम पूरा हो गया है। इसका निर्माण कार्य शुरू करने की प्रक्रिया पूरी की जाए।

(2)झारखण्ड राज्य के पूर्वी सिंहभूम जिला अन्तर्गत चाकुलिया प्रखण्ड के बुड़ामारा से बहरागोड़ा होते हुए बांगरीपासी (उडि़सा) तक नए रेलवे लाईन के निर्माण का कार्य प्रारंभ किया जाए।

(3) कांड्रा नामकुम रेलवे लाईन जिसके सर्वेक्षण का कार्य पूर्व में भी किया जा चूका है इसका निर्माण कार्य से संबंधित प्रक्रिया को अविलंब पूरा किया जाए (4) टाटा बादामपहाड़ रेल खण्ड पर रेलवे लाईन का दोहरीकरण किया जाए तथा इस रेल खण्ड पर रेल संबंधी सेवाओं पर बढ़ोत्तरी किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *