हेमंत सरकार ने एक तरफ निहत्थे कार्यकर्ता पर लाठी चलाने का कार्य किया तो दूसरी ओर फर्जी मुकदमे लादे जा रहे हैं : दीपक प्रकाश

रांची : भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद दीपक प्रकाश ने हेमन्त सरकार को संघीय ढांचा तोड़ने का आरोप लगाया है। प्रदेश कार्यालय में आज प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की मंदिर में तुष्टिकरण की राजनीति अनुचित है। विधानसभा में जनता के लिए प्रतिबद्ध हो सरकार। झारखंड की देवतुल्य जनता की आवाज बनकर भारतीय जनता पार्टी ने तुष्टिकरण राजनीति के खिलाफ बिगुल फूंकने का कार्य किया। विधान सभा घेराव के दौरान अनुशासित और शान्तिपूर्ण ढ़ंग से प्रदर्शन कर रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर लाठी चलाना सरकार की असंवैधानिक मानसिकता को दर्शाता है। पुलिस ने सब्र खोया, हेमन्त सरकार के इशारे पर निशाना बनाकर पुलिस ने लाठी चार्ज किया। महिला कार्यकर्ताओं के कपड़े फाड़े गए। मुझे और बाबूलाल मरांडी को टारगेट कर हमपर लाठियां बरसायी गयी। यह सारी घटनाएं मुख्यमंत्री के इशारे पर किया गया। पुलिस की भूमिका उस वक्त महादैत्य की तरह लग रही थी।
सरकार एक तरफ निहत्थे कार्यकर्ता पर लाठी चलाने का कार्य किया तो दूसरी ओर फर्जी मुकदमे लादे जा रहे हैं। बैक डेट से मुकदमा दायर किया गया है। भ्रष्ट सीओ के फर्जी स्क्रिप्ट पर एफआईआर किया गया जो विधानसभा घेराव के दौरान मौजूद भी नहीं थे। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार, कुशासन, आदिवासी विरोधी, महिला विरोधी, किसान विरोधी, युवा विरोधी, विकास विरोधी सरकार के खिलाफ भाजपा का संघर्ष जारी रहेगा। संघर्ष का दूसरा नाम भारतीय जनता पार्टी है। सरकार एक मतवाले हाथी की तरह राज्य में काम कर रही है। उन्होंने नमाज कक्ष को लेकर बनाए गए सात सदस्यीय कमेटी को लेकर कहा कि विधानसभा अध्यक्ष अपने ही आदेश की समीक्षा करवा रहे हैं यह विडंबना है। हालांकि कमेटी बनाए जाने पर कहा कि यह भाजपा के संघर्ष का प्रतिफल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *