JBVNL के चास डिविजन के ऊर्जा मित्रों को सात माह से नहीं मिला वेतन, युवा सामाजिक कार्यकर्ता सुल्तान सरवर ने उठाया मुद्दा, श्रम मंत्री ने लिया त्वरित संज्ञान

झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड के चास डिविजन के अंर्तगत कार्यरत ऊर्जा मित्रों (प्राइवेट कर्मचारियों) को पिछले 7 महीने से वेतन नही दिया गया है, जिसकी वजह से इन कर्मचारियों एवं उनके परिवार के सामने भुखमरी की स्थिति उतपन्न हो गई है। कई कर्मचारी ऐसी हालत से मानसिक तनाव से गुजर रहे और आत्महत्या तक की कोशिश कर चुके है।

कोरोना संकट काल और इस लॉकडाउन के दौर में बिना वेतन परिवार चलाना उनके लिए अत्यंत ही मुश्किल हो गया। ऐसे में बोकारो के युवा समाजसेवी सुलतान सरवर ने आज झारखंड के श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता और मुख्यमंत्री को ट्वीट के माध्यम से इस समस्या से अवगत कराया और चास बिजली विभाग में कार्यरत प्राइवेट कर्मियों को यथाशीघ्र वेतन दिलवाने का आग्रह किया था। जिस पर श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता जी ने थोड़ी ही देर में संज्ञान लेते हुए बोकारो के उपायुक्त को उपयुक्त कार्रवाई करते हुए जवाब देने को कहा। जिस पर बोकारो के उपायुक्त राजेश कुमार जी ने कहा है कि इस विषय पर संबंधित विभाग के अधिकारियों से बात हुई है और उपयुक्त कारवाई के लिए निर्देश जारी कर दिया है।

आशा है इस आदेश के बाद ऊर्जा मित्रों को जल्द ही वेतन मिलेगा और वे अपना घर परिवार सुचारू रूप से चला पाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

आप पसंद करेंगे