नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार के 8 वर्ष उपलब्धियों से भरे रहे हैं : अजय मिश्रा, केंद्रीय गृह राज्य मंत्री

अपने 2 दिनों के झारखंड प्रवास के दूसरे दिन केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा ने प्रदेश भाजपा द्वारा आयोजित “प्रेस वार्ता” को संबोधित करते हुए कहा कि 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में बनी पहली सरकार में ही अत्योदय के लक्ष्य को प्राप्त करने का काम शुरु कर दिया था जिसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने सरल भाषा “गरीब कल्याण” का नाम दिया है। उन्होंने केंद्र सरकार के 8 वर्षों की उपलब्धियों को बताते हुए कहा कि 2014 से प्रारंभ गरीब कल्याण की अपनी यात्रा में केंद्र की मोदी सरकार ने” स्वच्छता अभियान मिशन” के अंतर्गत 10 करोड़ से ज्यादा शौचालय के निर्माण कराये गये, 9 करोड़ से ज्यादा परिवारों को “उज्जवला योजना” के तहत गैस के फ्री गैस सिलेंडर उपलब्ध कराये गये, 3 करोड़ से ज्यादा गरीबों के पक्के मकान बनावाये गये, गाँवों में घर-घर बिजली पहुंचे इसके लिए अभियान चलाया गया।
उन्होंने कहा कि 2024 तक हर-घर “नल से जल” योजना पर भी हम काम कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि उपरोक्त ज्वलंत जरूरतों को पूरा करने के साथ ही रोड कनेक्टिविटी, रेलवे का ज्यादा से ज्यादा विस्तार पर भी हम काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी दृष्टि ऐसी है कि कमजोर वर्ग के लोगों के बच्चों को अच्छी शिक्षा मिल सके, स्वास्थ्य के बेहतर प्रबंध किये जायें इन लक्ष्यों को पुरा करने के साथ-साथ इन सुविधाओं को बढाने में हमारे प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में पिछले 8 वर्षों में अच्छे परिणाम दिये हैं। उन्होंने कहा कि इन्हीं उपलब्धियों को लेकर हम पूरे देश में जनता एवं कार्यकर्ताओं के बीच जा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि कोविड जैसी विश्वव्यापी महामारी जब पूरी दुनिया के सामने बड़ी चुनौती थी तब हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस तरह से न सिर्फ नियंत्रण किया बल्कि संसाधन भी बढाये। उन्होंने कहा कि शुरुआत में हमारे यहाँ सिर्फ कोविड जाँच की सिर्फ एक प्रयोगशाला थी तो आज हमारे पास 2500 से ज्यादा प्रयोगशालायें हैं। इस दौरान हम अपनी जाँच किट बनाने लगे और इस तरह से हम जाँच के मामले में आत्मनिर्भर हो गए। प्रधानमंत्री जी एवं उनकी टीम के प्रयासों की निरंतरता के कारण हमने न सिर्फ वैक्सीन बनाई बल्कि 190 करोड़ लोगों को हमने वैक्सीनेट कराया है तो वहीं 100 से भी ज्यादा देशों को हमने अपने देश में निर्मित वैक्सीन दी है जो आत्मनिर्भर भारत की बड़ी पहचान है।

उन्होंने कहा कि इस दौरान भारत की अर्थव्यवस्था भी गतिमान रही और आज हम दुनिया में तेजी से बढ रही अर्थव्यवस्थाओं में से एक हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेन संकट के समय जब दुनिया दो हिस्सों में बंट गई थी तब भारत एक तीसरी ताकत के रुप में खड़ा हुआ और हमने अपनी विदेश नीति किसी से प्रभावित नहीं होने दी।
उन्होंने कहा कि इस दौरान हमलोगों ने न सिर्फ अपने लोगों के नागरिकों की मदद की बल्कि अन्य देशों के लोगों को भी मदद पहुंचाने का काम किया। उन्होंने कहा कि रक्षा क्षेत्र में भी हम आत्मनिर्भर बन रहे हैं और अपने यहाँ चीजों का निर्माण हमने प्रारंभ कर दिया है। उन्होंने कहा कि विदेशी कंपनियों से भी हम निर्माण कार्य पर चर्चा कर कह दिया है कि रक्षा संयंत्रों एवं पुर्जों का निर्माण भारत में ही होगा।
उन्होंने कहा कि गृह मंत्रालय ने उत्तर-पूर्व के राज्यों में भी उग्रवादियों से बातचीत कर समझौता किया है एवं पूरे देश में शांति स्थापित करने का काम पूरे देश में किया है। उन्होंने कहा कि साथ ही सीमा पर घुसपैठ को हमारे अर्द्धसैनिक बलों ने रोकने में सफलता पाई है। आगे उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर से हमने धारा 370 एवं 35 A हटाकर अपने रुख को साफ कर दिया। उन्होंने कहा कि नागरिकता संसोधन बिल, नई शिक्षा नीति, किसानों के लिए कानून हम अपने दूसरे कार्यकाल के पहले 9 महीनों में ही लेकर आये। उन्होंने कहा कि इस प्रकार से हमने कोविड पर नियंत्रण पाई, यूक्रेन युद्ध का असर नहीं होने दिया, चीन से सीमा विवाद को सुलझाया साथ ही हमने खुले व्यापार की भी बात की है और भारत भी विश्व में खुले व्यापार का विकल्प बन सके हम उस पर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने एशिया पैसिफिक नाम का 13 देशों का एक नया संगठन बनाया है, G-20 में हम शामिल हैं। उन्होंने कहा कि भारत की छवि अच्छी हो, सीमायें सुरक्षित हों, अर्थव्यवस्था अच्छी हो, भारत की स्वतंत्र विदेश नीति हो हम इस पर काम कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि 8 वर्षों की इन उपलब्धियों को लेकर हम कार्यकर्ताओं एवं जनता के बीच हम जा रहे हैं ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को योजनाओं का लाभ मिल सके एवं गरीब सशक्त हों।
आज की प्रदेश वार्ता में विशेष रूप से प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दीपक प्रकाश, कार्यक्रम के संयोजक गणेश मिश्रा,प्रवक्ता कुणाल षाड़ंगी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

आप पसंद करेंगे